Ay Hairathe Song Download Mp3 A R Rahman, Alka Yagnik, Hariharan, Mohammed Aslam

Latest Ay Hairathe Song Download Mp3 By A.R. Rahman, Alka Yagnik, Hariharan, Mohammed Aslam . New , , , Song Ay Hairathe Mp3 Download 320Kbps For Free. Top Trending Song Ay Hairathe Sung by A.R. Rahman, Alka Yagnik, Hariharan, Mohammed Aslam, Music by Music Composer: & Lyrics Written By Gulzar Only On Filmisongs.

Ay Hairathe Full Song Lyrics  By A R Rahman, Alka Yagnik, Hariharan, Mohammed Aslam

Ay Hairathe Full Song For Free

Singer, , ,
Music Composer
Lyrics Writer
Original SourceYouTube
Released On11-18-2022

Ay Hairathe Mp3 Song Download

Ay Hairathe Song Download

Ay Hairathe Lyrics

दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"
ऐ, हैरते आशिक़ी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ, हैरते आशिक़ी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ, हैरते आशिक़ी, ऐ, हैरते आशिक़ी, ऐ, हैरते आशिक़ी
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"
क्यूँ उर्दू, फारसी बोलते हो?
क्यूँ उर्दू, फारसी बोलते हो?
दस कहते हो, दो तौलते हो
झूठों के शहनशाह बोलो ना
कभी झाँकों, मेरी ऑंखें
कभी झाँकों, मेरी ऑंखें सुनाए एक दास्ताँ
जो होठों से खोलो ना
ऐ, हैरते आशिक़ी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ, हैरते आशिक़ी, ऐ, हैरते आशिक़ी, ओ, हैरते आशिक़ी
दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा
दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा
दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा
दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा, दम-दरा
दो-चार महीन से लम्हों में
दो-चार महीन से लम्हों में
उम्रों के हिसाब भी होते हैं
जिन्हें देखा नहीं कल तक
जिन्हें देखा नहीं कल तक
कहीं भी अब कोख में वो चेहरे बोते है
ऐ, हैरते आशिक़ी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ, हैरते आशिक़ी जगा मत
पैरों से ज़मीं, ज़मीं लगा मत
ऐ, हैरते आशिक़ी, ऐ, हैरते आशिक़ी, ओ, हैरते आशिक़ी
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"
ओ, दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
दम-दरा, दम-दरा, चश्म-चश्म नम
सुन मेरे हमदम, "हमेशा इश्क़ में ही जीना"...